प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन व लाभ
PM Gareeb Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पंजीकरण | Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना | PMGKY Form |
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 26 मार्च 2020 को 21 दिन के लॉक डाउन को ध्यान में रखते हुए गरीब जनता को कोई समस्या ना आए इसके लिए आरंभ की है| प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए हमारे वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने विभिन्न प्रकार के योजनाओं को प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना के अंतर्गत आरंभ किया है योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार द्वारा 1.70 करोड़ की धनराशि आवंटित की है प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ 80 करोड़ लाभार्थियों को प्रदान किया जाएगा यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तथा योजना से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें|
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत प्राथमिकता

PMGKY 2. 0

जिसके कारण कई राज्यों में लॉकडाउन है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत राशन प्रदान किए जाने की घोषणा की गई है। इस योजना के माध्यम से सभी पात्र लाभार्थियों तक राशन पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के नागरिक जैसे की सड़क पर रहने वाले, कूड़ा उठाने वाले, फेरी वाले, रिक्शा चालक, प्रवासी मजदूर आदि को प्राथमिकता प्रदान दी जाएगी। इस बात की जानकारी डीएफपीडी के सचिव सुधांशु पांडे द्वारा प्रदान की गई।

कोरोना वायरस के आर्थिक प्रभाव को कम करने में मदद करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अप्रैल 2020 से मार्च 2022 तक 200 लाख मैट्रिक टन खाद्य धन वितरित किया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अब मुफ्त खाद धन प्रदान करने की योजना को 3 महीने और बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को 35 किलो राशन के साथ दाल, चीनी, तेल और नमक प्रदान किया जाता है। यह वितरण प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के पांचवें चरण के अंतर्गत किया जा रहा है। अप्रैल से जून 2020 के बीच अंत्योदय कार्ड धारकों को 195 करोड़ रुपए की लागत का आठ लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न वितरित किया गया है।
इसके अलावा आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत प्रवासी मजदूरों को 12 हजार मैट्रिक टन खाद्यान्न एवं 1100 मैट्रिक टन चना प्रदान किया गया है। वर्ष 2020 से मार्च 2022 तक 134 लाख मैट्रिक टन निशुल्क खाद्यान्न वितरित किया गया है। इसके अलावा जून 2021 से अगस्त 2021 के बीच सभी कार्ड धारकों को 564.23 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न वितरित किया गया है। दिसंबर 2021 से मार्च 2022 तक 18.71 लाख मैट्रिक टन गेहूं, 12.75 लाख मैट्रिक टन चावल एवं 1.35 लाख मैट्रिक टन सोयाबीन तेल और आयोडीन नमक वितरित किया गया है।

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को 6 महीने के लिए आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इस बात की घोषणा केंद्र सरकार द्वारा 26 मार्च 2022 को की गई है। जिसके लिए सरकार द्वारा 30.40 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे। अब इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को सितंबर 2022 तक निशुल्क राशन प्रदान किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा इस बात की जानकारी ट्वीट के माध्यम से भी प्रदान की गई। इस योजना का लाभ देश के 80 करोड़ से अधिक नागरिक उठा सकेंगे। इस योजना का एलान मार्च 2020 के लॉकडाउन लागू होने के पश्चात किया गया था।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को लागू करने का मकसद कोरोनावायरस के कारण प्रत्येक नागरिक तक राशन की उपलब्धता सुनिश्चित करना है। प्रत्येक नागरिक को इस योजना के माध्यम से 5 किलो से अधिक अनाज प्रदान किया जाता है। देश के सभी नागरिक जिनके पास राशन कार्ड है वह अपने कोटे से राशन के साथ-साथ इस योजना के तहत प्रति माह 5 किलो अतिरिक्त राशन की प्राप्ति कर सकते हैं।
मुख्य तथ्य प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं मार्च 2020 में भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा की गई थी। इस पैकेज के अंतर्गत प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से 80 करोड़ राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम के लाभार्थियों को अतिरिक्त एवं मुफ्त खाद्यान्न का वितरण किया ग

One thought on “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2022”
  1. Normally I do not read post on blogs, but I would
    like to say that this write-up very compelled
    me to check out and do so! Your writing taste has been amazed
    me. Thanks, quite nice article.

Leave a Reply

Your email address will not be published.